info.rsgio24@gmail.com | +91- 8222-08-3075

पैकेट वाला दूध दूध खतरनाक हो सकता है, इसे आहार में शामिल ना करें

डिब्बाबंद दूध में एक रासायनिक क्षमता भी होती है जो बच्चों के जिगर, गुर्दे और मस्तिष्क को नुकसान पहुंचा सकती है।
दूध में मौजूद कैल्शियम और प्रोटीन आपके स्वास्थ्य के लिए बहुत फायदेमंद है। आमतौर पर दूध हड्डियों को शक्ति प्रदान करता है और ऊर्जा भी बढ़ाता है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि पैकेट वाला दूध आपकी सेहत के लिए हानिकारक है? कई ऐसे शोध भी आए हैं जिनमें यह पाया गया है कि पैकेट के दूध में मिलावट होती है जिसके कारण आपका स्वास्थ्य प्रभावित हो सकता है।
समय से पहले के बच्चों के लिए पैक दूध हानिकारक है। पैकेज्ड दूध में एक रासायनिक क्षमता भी होती है जो बच्चों के जिगर, गुर्दे और मस्तिष्क को नुकसान पहुंचा सकती है। साथ ही, पैकेट का दूध बच्चों के मानसिक स्वास्थ्य के लिए भी हानिकारक है। यदि आप अपने बच्चे को अधिक मात्रा में पैकेट वाला दूध देते हैं, तो वह मानसिक विकार का शिकार भी हो सकता है।
भारतीय खाद्य सुरक्षा और मानक प्राधिकरण (FSSAI) के अनुसार, पैकेज्ड दूध की मात्रा बढ़ाने के लिए इसमें अमोनियम सल्फेट, यूरिया, ग्लूकोज और वनस्पति तेल मिलाया जाता है, जो कई तरह से स्वास्थ्य को नुकसान पहुंचा सकता है। 10 प्रतिशत तक दूषित दूध को पैक दूध के साथ मिलाया जाता है, जिससे संक्रमण का खतरा बढ़ जाता है।
पैकेज्ड दूध दूषित होता है और इसमें कई तत्व होते हैं, जिसके कारण दस्त, आंतों में संक्रमण, लूज मोशन, टाइफाइड, उल्टी और फूड पॉइजनिंग की संभावना बढ़ जाती है। इन सभी समस्याओं से बचने के लिए आपको पैकेट वाला दूध पीने से बचना चाहिए। पैकेज्ड दूध में कई हानिकारक रसायन भी होते हैं, जिससे कार्सिनोजेनिक समस्या होने की संभावना बढ़ जाती है। अगर आप 10 साल से ज्यादा समय से पैकेट वाला दूध पी रहे हैं तो आप कई गंभीर बीमारियों के शिकार हो सकते हैं। कुछ बीमारियां ऐसी हैं जिन्हें आप सही तरीके से जानते भी नहीं हैं।