info.rsgio24@gmail.com | +91- 8222-08-3075

किडनी ट्रांसप्लांट से हर दिन 1 कप कॉफी बचाई जा सकती है

कॉफी किडनी के कार्य को बाधित करती है और किडनी के स्वास्थ्य को बनाए रखती है।
शोध में पता चला कि जो लोग हर दिन एक कप कॉफी का सेवन करते हैं, उनके सीकेडी यानी क्रोनिक किडनी रोग होने की संभावना काफी कम हो जाती है। ज्यादातर लोग कॉफी पीना पसंद करते हैं। यही कारण है कि कॉफी दुनिया में सबसे अधिक इस्तेमाल किया जाने वाला पेय है। अगर सीमित मात्रा में जरूरत के अनुसार इसका सेवन किया जाए तो कॉफी पीने के कई स्वास्थ्य लाभ हैं। आपको यह जानकर खुशी होगी कि कॉफी पीने के लाभों की सूची में एक नया लाभ जुड़ गया है, जो हाल ही में हुए एक शोध में सामने आया है
हालिया शोध में यह बात सामने आई है कि कॉफी पीने से किडनी की कार्यक्षमता में सुधार होता है। यह शोध अमेरिकन जर्नल ऑफ किडनी डिजीज में प्रकाशित हुआ है। शोधकर्ताओं के अनुसार, क्रोनिक किडनी रोग (CKD) एक ऐसी स्थिति है जिसमें गुर्दे की वेस्ट को फ़िल्टर करने की क्षमता कम होती है और किडनी धीरे-धीरे काम करना बंद कर देती है। यदि इस समस्या का समय पर समाधान नहीं किया जाता है, तो गुर्दे की विफलता की संभावना कई गुना बढ़ जाती है। इसका इलाज तब केवल डायलिसिस और किडनी प्रत्यारोपण ही होता है।
विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार, आमतौर पर यह माना जाता है कि गुर्दे की विफलता मधुमेह और उच्च रक्तचाप के कारण होती है, जबकि इसके कई पुराने क्षेत्र हैं। ये वैश्विक स्तर पर कई अन्य घातक बीमारियों के बढ़ने की ओर इशारा कर सकते हैं। उदाहरण के लिए, ग्लोबल बर्डन ऑफ डिजीज (GBD) 2015 के अध्ययन के अनुसार, विभिन्न कारणों से हृदय रोगों के कारण 1.2 मिलियन मृत्यु और 19 मिलियन जीवन अक्षमताएं हुई हैं।
ग्लीम वाइड एसोसिएशन स्टडी (GWAS) से जुड़े ओलिवर जे। कैनेडी और टीम द्वारा किडनी पर कॉफी की खपत का प्रभाव देखा गया। इस शोध के लिए, शोधकर्ताओं ने यूके बायोबैंक के बेसलाइन डेटा का उपयोग किया। इस डेटा के लिए 2 लाख 27 हजार 666 मरीजों का विवरण लिया गया था। शोध में पता चला कि जो लोग हर दिन एक कप कॉफी का सेवन करते हैं, उनके सीकेडी यानी क्रोनिक किडनी रोग होने की संभावना काफी कम हो जाती है। क्योंकि कॉफी किडनी के कार्य को बाधित करती है और किडनी के स्वास्थ्य को बनाए रखती है