info.rsgio24@gmail.com | +91- 8222-08-3075

सौंफ की चाय पीने के 5 बेहतरीन फायदे

सौंफ में औषधीय गुण होते हैं। इसके सेवन से शरीर को जरूरी पोषक तत्व भी मिलते हैं।
सौंफ सुगंधित होने के साथ-साथ कई औषधीय गुण भी हैं। जब शरीर में आयरन और पोटैशियम की कमी होती है, तो महिलाओं में अनियमितता के दौर आते हैं। सौंफ में कैल्शियम, सोडियम, आयरन, पोटैशियम जैसे लाभकारी तत्व होते हैं। अगर आपके पीरियड्स नियमित नहीं हैं, तो रोजाना सुबह खाली पेट 1 चम्मच सौंफ गुनगुने पानी के साथ लें। पेट संबंधी सभी बीमारियां भी इससे दूर हो जाएंगी। जिन लोगों को कब्ज की समस्या होती है, उन्हें भी सौंफ के सेवन से दूर हो जाती है। सौंफ की चाय में एस्ट्रोजन को बढ़ाने की क्षमता होती है, जो महिलाओं में हार्मोनल गड़बड़ी को ठीक करता है। इसके अलावा, अगर स्तनपान कराने वाली महिला को कम दूध मिल रहा है, तो वह भी इसमें मदद करती है। यह पीरियड्स के दौरान होने वाले पेट दर्द से भी छुटकारा दिलाता है।
आंखों की रोशनी बढ़ने से एनजाइद होती है। प्रतिदिन भोजन के बाद 1 चम्मच सौंफ खाएं, या एक चम्मच सौंफ पाउडर में एक चम्मच मिश्री मिलाकर रात को सोते समय दूध के साथ लें। सौंफ के पाउडर को दूध के स्थान पर पानी के साथ भी लिया जा सकता है। 10 ग्राम सौंफ के अर्क को शहद में मिलाकर दिन में 2-3 बार सेवन करने से खांसी ठीक हो जाती है। या 1 चम्मच सौंफ और 2 चम्मच अजवाइन को आधा लीटर पानी में उबालें और फिर इसमें 2 चम्मच शहद मिलाएं और इसे छान लें। इस काढ़े के 3 चम्मच को 1-1 घंटे के अंतराल पर पीने से खांसी में आराम मिलता है। इस चाय को पीने से पेट की गैस में राहत मिलती है। यह चाय दस्त, पेट फूलना या पेट दर्द के लिए बहुत अच्छी है।
छोटे बच्चे अक्सर पाचन समस्याओं से परेशान रहते हैं। बच्चों के पेट के रोगों के लिए दो कप पानी में दो चम्मच सौंफ पाउडर उबालें। एक चौथाई शेष रहने पर इस पानी को छानकर ठंडा कर लें। दिन में दो से तीन बार एक-एक चम्मच पीने से बच्चों में पेट का उलटा, मरोड़ आदि की शिकायत दूर हो जाती है। यह पेट में एसिड के स्तर को कम करता है और आंत में पनपने वाले बैक्टीरिया और कीड़ों को नष्ट करता है। यह आपके लिवर को अल्कोहल से होने वाले नुकसान से बचाता है और पीलिया को होने से रोकता है। इसके अलावा, यह रक्त को साफ करता है, गुर्दे के कार्य को गति देता है और पथरी को गुर्दे बनने से रोकता है।
यदि आप परेशान हैं कि आपको कुछ याद नहीं है, तो याददाश्त बढ़ाने के लिए सौंफ का सेवन करें। इसके लिए सौंफ और मिश्री को बराबर मात्रा में मिलाएं और पाउडर बनाकर रखें। इस मिश्रण को दो चम्मच सुबह-शाम खाने के बाद लेने से स्मरण शक्ति तेज होती है। सौंफ के नियमित सेवन से पेट और कब्ज की समस्या नहीं होती है। इसके लिए सौंफ को मिश्री के साथ पीसकर पाउडर बना लें और इसका लगभग 5 ग्राम चूर्ण गुनगुने पानी के साथ रात को सोते समय लें। इससे पेट की सभी समस्याएं दूर हो जाएंगी। अगर आपके चेहरे और शरीर में सूजन है, तो यह चाय इसे कम करती है और वजन बढ़ने से रोकती है। यह आपके मेटाबॉलिज्म को बढ़ाता है, जिससे फैट जल्दी बर्न होता है। यह आपकी भूख को भी नियंत्रित करता है।